Brajesh Singh

Poetry

header photo

My viewpoint

हृदय परिवर्तन

सर..! एअरपोर्ट जाने के लिये थोड़ा जल्दी निकलिए, आज ट्राफिक कुछ ज़्यादा ही है. देखा कि उम्र के लगभग पचास पड़ाव पार कर चुका एक शख़्स मेरा सामान लिए खड़ा था.…

Read more

अमेठी: एक खुली किताब के पन्ने

जब आप असफल होते हैं तो आपके पास अनुभव होता है और जब सफल, तो घमण्ड... इसीलिए अमेठी में हमारे अनुभव तो इतने हैं कि कोई अनुभव-काण्ड भी लिखा जा सकता है, लेकिन मैं यहाँ पर आपका ध्यान कुछ प्रायोजित और पोषित मीडिया द्वारा फैलाई गयी स्तरहीन खबरों, कुमार के चारित्रिक हनन के प्रयासों की ओर लाना चाहता हूँ. वो …

Read more

Lest we forget them...

गणतंत्र दिवस की शुभ कामनायें ।।

ये पर्व निर्विवादित रूप से मेरे बचपन के सबसे मनपसंद त्योहारों में से एक रहा है। महीनों पहले से तैयारियां शुरू हो जातीं थीं, शायद ही कोई समारोह मुझसे छूटा होगा। संघ संचालित स्कूल था और देशभक्ति से भरे साहित्य की कम…

Read more

Kumar Vs Yuvraaj: A battle between Values, Virtues and Vested interests

Parivartan Series: Amethi

The battle has begun… India, world’s largest democracy, is going to witness its most awaited showdown when people of this great nation will cast their votes to elect their representatives, their members of parliament who, by all definition, will work for the development,…

Read more

Bharat Bhagya Vidhata: The Lost Path

In June, 1964 when Shri Lal Bahadur Shastri ji sworn in as Prime Minister of India, country was actually going thru a tough phase of poverty, insecurity, unemployment and polarised socioeconomics after partition. The need of time was to encourage agricultural produce, bring in self-sustainability an…

Read more